रक्त


रक्त

(BLOOD)


Manav rakt ek taral sanyoji hai. Yah ek Aisa jiwan drav hota hai jis par praniyon ka jiwan nirbhar karata hai. रक्त क्या है ?


मानव रक्त एक तरल संयोजी ऊतक (Connective tissue) है। यह एक ऐसा जीवन-द्रव (Vital fluid) होता है जिस पर प्राणियों का जीवन निर्भर करता है। शरीर के सभी कार्य इसी पर ही आधारित रहते हैं। रक्त शरीर में रक्त वाहिनियों द्वारा एक स्थान से दूसरे स्थान तक धारा की तरह बहता रहता है। यह स्वाद में नमकीन और दिखने में अपारदर्शी होता है तथा एक विशेष प्रकार की गंध से युक्त होता है। धमनियों में रक्त ऑक्सीजिनेटेड रहने की वजह से लाल होता है और शिराओं में रक्त डिऑक्सीजिनेटेड रहने की वजह से गहरा बैंगनी-लाल होता है। शिराओं का रक्त इस रंग का इसलिए दिखाई देता है क्योंकि यह अपनी कुछ ऑक्सीजन ऊतकों को दे देता है यानि डिऑक्सीजिनेटेड हो जाता है और इसी प्रक्रिया के दौरान इसमें ऊतकों से बेकार पदार्थ मिल जाते हैं......................

>>Read More