मानव शरीर

Manav sharer men kayee prakar ke ang paye jate hain aur in angon ke kary alag alag hoten hai jo manav ko jivit rakhane men sahayak hote hai.

मानव शरीर


मानव शरीर कैटेगरीज :

  मानव शरीर का परिचय :


रासायनिक स्तर पर मानव शरीर विभिन्न जैविक रसायनों का संगठनात्मक तथा क्रियात्मक रूप होता है। इसमें विभिन्न तत्वों के परमाणु यौगिकों के रूप में संगठित होकर जैविक क्रियाओं को संचालित करते हैमानव शरीर विभिन्न संरचनात्मक स्तरों का एक जटिल संगठन है। इसकी शुरूआत परमाणुओं (Atoms), अणुओं (Molecules) और यौगिकों (Compounds) से होती है तथा कोशिकाएं, ऊतक, अंग (Organs) एवं जटिल संस्थान या तन्त्र (Systems) आपस में मिलकर सम्पूर्ण मानव का निर्माण करते है।

रासायनिक स्तर पर मानव शरीर विभिन्न जैविक रसायनों का संगठनात्मक तथा क्रियात्मक रूप होता है।

>>Read More  


  कुछ खास अर्टिकल्स :


कोशिका क्या है?    |     कोशिका विभाजन   |    लिंग निर्धारण  |    जठरांत्र-नली  |   छोटी आंत   |   छोटी आंत के कार्य   |    पेशीय ऊतक  |    भोजन के पोषक तत्व  |    प्रोटीन्स का चयापचय  |    पेशी का संकुचन  |   पेशियों की बनावट   |   हृदय पेशी   |    प्रतिवर्त क्रिया  |    गोलाकार पेशी  |    उपास्थिमय जोड़     |  कंकाल-तन्त्र क्या है?     |   हड्डी का विकास    |    खोपड़ी   |    धड़ की हड्डियां   |   त्रिकास्थि    |    उरोस्थि   |    पर्शुकाएं या पसलियां   |   ह्यूमरस    |   प्यूबिस    |    टिबिया   |   तन्त्रिका मूल   |   तन्त्रिका तन्त्र क्या है?    |    श्रवणेन्द्रियाँ   |   स्वादेन्द्रिय    |    हॉर्मोन्स   |   अन्तःस्रावी तन्त्र क्या है?    |  स्वरयंत्र    |   श्वसनियां    |   फेफड़े   |   मध्यच्छद पेशी    |  फेफड़ों की कुल वायुधारिता    |   प्लीहा    |   लसीका पर्व    |   टॉन्सिल   |   रक्त परिसंचरण क्या है?    |   रक्त    |    नाड़ी   |    मूत्रीय संस्थान क्या है?   |   मूत्रण    |   मूत्र    |    प्रजनन-संस्थान क्या है‌‍?   |   शुक्राणु    |    शुक्राशय    |   प्रोस्टेट ग्रंथि    |   योनि    |    भगनासा   |  जघन शैल     |    मासिकचक्र