मसाज से रोगों का उपचार

Malish ka prabhav hamare poore sharer par padata hai. Isase manpeshiyan lachili banati hai, rakt ka daura sucharoo roop se chalata rahata hai tatha nas-nadiya bhi swasth aur nirog banti hai. 


मसाज से रोगों का उपचार


मालिश का इस्तेमाल पुराने समय से ही बहुत से रोगों से छुटकारा पाने और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए किया जाता है। मालिश का प्रभाव हमारे पूरे शरीर पर पड़ता है। इससे मांसपेशियां लचीली बनती हैं, रक्त का दौरा सुचारू रूप से चलता रहता है तथा नस-नाड़ियां भी स्वस्थ और निरोग बनती हैं। मनुष्य जो भी कार्य करता है, स्वस्थ शरीर के बल पर ही करता है। यदि उसका स्वास्थ्य अच्छा नहीं होगा, तो वह किसी भी कार्य के योग्य नहीं होगा और अपने जीवन में असफल होगा। इसलिए स्वास्थ्य का हमारे जीवन से बड़ा सम्बंध है तथा शरीर का स्वस्थ रहना अति आवश्यक है। मालिश द्वारा हम अपना शरीर पूर्ण रूप से स्वस्थ और निरोग रख सकते हैं। इससे हमारी उम्र लम्बी होती है और शरीर में शक्ति का संचार होता है।

        मालिश द्वारा हम अपने शरीर को सीधा कर सकते हैं, यह कमजोर रूप से पीड़ित व्यक्तियों के लिए काफी फायदेमन्द होती है। यदि कोई व्यक्ति पूरे दिन कुछ न खाए तथा उपवास रखे, परन्तु रोजाना किसी अच्छे मालिश करवाने वाले से अपने शरीर की मालिश कराए तो वह व्यक्ति कई हफ्तों तक व्रत यानी उपश्वास रख सकता है। मालिश द्वारा उसके शरीर को खुराक मिलती रहती है और उसकी कमजोरी दूर हो जाती है।

>>Read More

मसाज से रोगों का उपचार :