Error message

  • User warning: The following theme is missing from the file system: global. For information about how to fix this, see the documentation page. in _drupal_trigger_error_with_delayed_logging() (line 1156 of /home/jkheakmr/public_html/hindi/includes/bootstrap.inc).
  • User warning: The following module is missing from the file system: mobilizer. For information about how to fix this, see the documentation page. in _drupal_trigger_error_with_delayed_logging() (line 1156 of /home/jkheakmr/public_html/hindi/includes/bootstrap.inc).
  • User warning: The following module is missing from the file system: global. For information about how to fix this, see the documentation page. in _drupal_trigger_error_with_delayed_logging() (line 1156 of /home/jkheakmr/public_html/hindi/includes/bootstrap.inc).

मसाज के द्वारा सुंदरता

aaj ki vyast life men har insane itana busy ho gaya hai ki uske paas apne sharer ki achchhi tarah dekhbhal karane ka bhi samay nahi hai. Isi ke karan use sardi, jukam, nind na anan jaise chhote-mote rog gher lete hai.

मसाज के द्वारा सुंदरता


कमजोरी को दूर करने के लिए मालिश पूरे शरीर के लिए बहुत ही लाभदायक सिद्ध होती हैआजकल की व्यस्त लाइफ में हर इंसान इतना बिजी हो गया है कि उसके पास अपने शरीर की अच्छी तरह देखभाल करने का भी समय नहीं है। इसी के कारण उसे सर्दी, जुकाम, नींद न आना जैसे छोटे-मोटे रोग घेर लेते हैं और व्यक्ति उन रोगों को ठीक करने के लिए दवाएं लेता है। ये दवाएं उस समय तो लाभकारी होती है पर फिर भी उनके शरीर में एक कमजोरी सी रह जाती है इसी कमजोरी को दूर करने के लिए मालिश पूरे शरीर के लिए बहुत ही लाभदायक सिद्ध होती है। सप्ताह में कम से कम 1 बार मालिश जरूर करनी चाहिए...................

>>Read more