भोजन से संबंधित जानकारियां

Ahar chikitsa ke dwara upchar karane se pahale bhojan se sambandhit sabhi prakar ki jaankariyon ko jaan lena jaroori hai tabhi aap thik prakar se is chikitsa se laabh le sakate hai.


भोजन से संबंधित जानकारियां


हमारे पुराने ग्रंथों में पहले से ही भोजन के बारे में तथ्य दिया जा रहा है कि भोजन आधा पेट करना चाहिए, चौथाई पेट पानी पीना चाहिए और पेट की बाकी बची हुई जगह हवा के लिए रखनी चाहिए। लेकिन बहुत ही कम संख्या में लोग इस बात पर गौर करते हैं।

बहुत से लोगों का मानना है कि कम भोजन करने से शरीर को पूरा पोषण नहीं मिल पाता इससे शरीर कमजोर हो जाता है। यह बात बिल्कुल गलत है। शरीर के लिए वही भोजन उपयोगी होता है जो शरीर में अच्छी तरह से पच जाए।

यह बात आपको हमेशा ध्यान रखनी चाहिए कि आप जितना अधिक भोजन करेंगे उतने ही ज्यादा रोग शरीर को घेरेंगे। आप अपने ऊपर इसका प्रयोग करके देख सकते हैं। 3-4 दिनों तक कम मात्रा में भोजन करने से आपको भूखे पेट होने का अहसास होगा। लेकिन एक हफ्ते बाद पेट उसी के अनुकूल हो जायेगा। इसके बाद ध्यान से अपने शरीर और व्यवहार को देखें। आप देखेंगे कि आपके शरीर में चेतना अधिक होती है। फिर अपने कम खाने के महत्व को समझकर आप अपने जीवन में इसका उपयोग करते रहेंगे।

जिन लोगों की उम्र संसार में बहुत ज्यादा है वह लोग हमेशा कम भोजन ही खाते आए हैं।

मेहमान का सम्मान करने में उसे ज्यादा खाना खिलाना ठीक नहीं होता..............

>>Read More