भोजन के तत्व या अवयव


भोजन के तत्व या अवयव

(Essential Nutrients)


 स्वस्थ जीवन के लिए हमारे भोजन में कुछ विशेष भोज्य पदार्थ (तत्व) पाए जाते हैं। इन तत्वों को भोजन के विशेष अवयव (essential nutrients) भी कहते हैं। इन तत्वों के कार्य अलग-अलग होते हैं तथा ये शरीर की अलग-अलग जरूरतों की पूर्ति भी करते हैं। ये तत्व या अवयव निम्नलिखित होते हैं-

कार्बोहाइड्रेट्स (Carbohydrates) :

कार्बोहाइड्रेट्स के अंदर शर्करा, स्टार्च (मांड) और सेल्यूलोज शामिल होते हैं। ये कार्बन, हाइड्रोजन और ऑक्सीजन के संयोजक होते हैं तथा इनमें हाइड्रोजन एवं ऑक्सीजन जल के समान अनुपात में रहती है। इनसे शरीर में ऊष्मा एवं ऊर्जा या शक्ति पैदा होती है तथा ऊतकों का निर्माण होता है।.........................

>>Read More

प्रोटीन्स (Proteins) :

सोडियम, पोटैशियम तथा कैल्सियम के क्लोराइड, कार्बोनेट और फॉस्फेट जैसे खनिज लवण  मनुष्य के शरीर में प्राकृतिक रूप से मौजूद रहते हैं। इन खनिज-लवणों का उपयोग चयापचय के नियमन में होता है। एक वयस्क के शरीर के भार का लगभग 4 से 5 प्रतिशत भाग इन खनिज लवणों द्वारा ही निर्मित होता है.........................

 वसा (Fat) :

वसाओं में कार्बोहाइड्रेट्स से दुगुनी ऊर्जा प्रदान करने की क्षमता होती है। पाचन क्रिया के दौरान वसाएं वसीय अम्लों (fatty acids) और ग्लिसरॉल (glycerol) में बंटकर अवशोषित हो जाती है। वसा (fat) को पचाने के लिए कार्बोहाइड्रेट्स की जरूरत पड़ती है। अगर इसे  कार्बोहाइड्रेट्स ........................

>>Read More

सोडियम, पोटैशियम तथा कैल्सियम के क्लोराइड, कार्बोनेट और फॉस्फेट जैसे खनिज लवण  मनुष्य के शरीर में प्राकृतिक रूप से मौजूद रहते हैं। इन खनिज-लवणों का उपयोग चयापचय के नियमन में होता है। एक वयस्क के शरीर के भार का लगभग 4 से 5 प्रतिशत भाग इन खनिज लवणों द्वारा ही निर्मित होता है.........................
विटामिन्स (Vitamins) :

विटामिंस सामान्य स्वास्थ्य के लिए जरूरी रासायनिक (कार्बनिक) यौगिक होते हैं। इनकी शरीर को चयापचय के नियमन के लिए बहुत ही कम मात्रा में जरूरत होती है। बहुत-से विटामिन शरीर में प्रवेश करने के बाद सह-एन्जाइम्स (co-enzymes) में बदल जाते है। ये खास करके उन एन्जाइम्स को सहारा देते हैं.........................

>>Read More

जल दो भाग हाइड्रोजन और एक भाग ऑक्सीजन के रासायनिक संयोजन से बना हुआ एक तरल यौगिक होता है। शरीर के भार का लगभग 60 प्रतिशत भाग जल का बना होता है। जल शरीर की सारी जीवित कोशिकाओं के प्रोटोप्लाज्म का जरूरी तथा मुख्य घटक होता है। शरीर में होने वाली बहुत-सी जरूरी रासायनिक प्रतिक्रियाएं, जैसे- कोशिकीय श्वसन .........................