भोजन का कैलोरी मूल्य


भोजन का कैलोरी मूल्य

(Caloric value of food)


          किसी भोज्य पदार्थ का मूल्य उसके ऑक्सीकरण होने पर उससे पैदा होने वाली ऊर्जा (शक्ति) की मात्रा से पता किया जाता है। ऊर्जा को कैलोरी (calories) में मापा जाता है। एक कैलोरी (ऊष्मा) ऊर्जा (शक्ति) की वह मात्रा है जो 1 लीटर जल का तापमान 1 डिग्री सेंटिग्रेड (10C) बढ़ाने के लिए जरूरी होती है। कैलोरी का अभिप्राय किलोकैलोरी (Kcal) से होता है, जो 1000 कैलोरीज के बराबर होती है।

हर भोज्य पदार्थ का कैलोरी मूल्य अलग-अलग होता है, जो निम्नानुसार होता है-

1 ग्राम प्रोटीन से पैदा हुई ऊष्मा            -    4 कैलोरी

1 ग्राम कार्बोहाइड्रेट से पैदा हुई ऊष्मा    -    4 कैलोरी

1 ग्राम वसा से पैदा हुई ऊष्मा              -    9 कैलोरी

कैलोरी (ऊष्मा) की आवश्यकता- कठोर शारीरिक मेहनत करने वाले व्यक्तियों जैसे-

मजदूरों के लिए                     -    35 कैलोरीज

बैठे-बैठे काम करने वाले व्यक्तियों के लिए -   2500 कैलोरीज

विश्राम के समय में                  -    1800 कैलोरीज

बिस्तर पर पड़े रोगी के लिए           -    1200 कैलोरीज

     शिशुओं एवं बढ़ते हुए बच्चों को वयस्कों की अपेक्षा ज्यादा कैलोरीज की जरूरत होती है। ऊपर दी गई कैलोरीज की ये आवश्यकताएं केवल अनुमानित है। किसी व्यक्ति की वास्तविक कैलोरी आवश्यकता उसके वजन, आयु, लिंग, व्यवसाय, जलवायु, स्वास्थ्य एवं आहार आदि पर निर्भर होती है।

     भोजन से प्राप्त कैलोरी (ऊष्मा) शरीर के वजन को कम होने से बचाती है, शरीर के ताप को नियंत्रित तथा स्थिर बनाए रखती है और कोशिकाओं, ऊतकों, ग्रंथियों तथा अंगों को क्रियाशील रखती है।