स्त्रीरोग

 << आयुर्वेदिक औषधियां होम पेज

Stri se sambandhit rogon ka upchar ayurveda se asanipurawak kiya ja sakata aur ye rog is prakar hai jaise Banjhpan, Banjhpan ka karan janana, Bhag pradah, Bhag ki khujali, Garbh men mare bachche ka dosh door karana aadi.

स्त्रीरोग

बांझपन

बांझपन का कारण जानना एवं चिकित्सा

भग प्रदाह, भग की खुजली (योनि की जलन और खुजली)

चांद के समान सुन्दर लड़का पैदा होने के लिए

महिलाओं की छाती का जमा दूध निकालना

मातृदुग्धवर्धक, दूध का बढ़ाना (स्तनों में पर्याप्त मात्रा में दूध की उपलब्धता)

गर्भधारण (गर्भस्थापित कराना)

गर्भ से उत्पन्न बच्चे का सुन्दर होना

गर्भ का ताकतवर (सुदृढ़, मजबूत, शक्तिशाली) होना

गर्भ की रक्षा करना

गर्भ की रक्षा प्रसव होने तक

गर्भ में मरे बच्चे का दोष दूर करना

गर्भ निरोध (गर्भ ठहरने से रोकना)

मासिक-धर्म शुरू होने की पहचान

माहवारी (मासिक-धर्म) सम्बंधी परेशानियां

माहवारी (मासिक-धर्म) के सभी दोषों को दूर करना

मासिक-धर्म में दर्द

मृत्वत्सा दोष

मिक्सीडीमा

स्तन की सौंदर्यता के लिए

स्तनों में दूध की खराबी

स्तनों का छोटा होना

स्तनों की घुण्डी का फटना

स्तनों में से दूध का न उतरना या कम होना

स्तनों में दूध की अधिकता होना

स्तनों में रसूली

योनि (स्त्रियों का जननांग) को बड़ी करना

योनि में लिंग के द्वारा बुरा प्रभाव होना

योनि में जलन और खुजली का होना

गर्भनिवारक योग

गर्भवती स्त्री का दिल धड़कना

गर्भवती स्त्री का बुखार

गर्भाशय के बाहर निकल जाने पर

गर्भाशय की सूजन

गर्भाशय के तरल (अंडाणु) की परीक्षा गर्भाधान के लिए

गर्भाशय व योनि के रोग

गर्भावस्था का भोजन

गर्भावस्था से पूर्व सावधानी

गर्भावस्था की पहचान

गर्भपात (गर्भस्राव करना

गर्भपात के बाद के कष्टों में

गर्भपात की चिकित्सा

गर्भपात न हो और पुत्र उत्पन्न हो

गर्भावस्था की मिचली (जी मिचलाना)

नष्टार्तव (मासिक-धर्म ``माहवारी`` बंद हो जाना)

नवजात शिशु को दूध पिलाने से सम्बंधित जानकारियां

प्रदर

प्रसव (बच्चे का जन्म आसानी से होना)

प्रसव में विलम्ब (प्रसव में देरी का कारण)

प्रसव वेदना

प्रसूता की सुरक्षा

स्त्री के सभी रोग

स्तन रोग

सूतिका रोग

श्वेतप्रदर (ल्यूकोरिया)

सोम रोग

सुखपूर्वक बच्चा पैदा हो

सूतिका ज्वर

तंग योनि को शिथिल करना

योनि की बदबू

गर्भवती स्त्री की अतिसार (दस्त)

गर्भवती स्त्री की उल्टी

गर्भवती स्त्रियों के विभिन्न रोग

गुप्तांग (योनिरोग)

गुल्यवायु (हिस्टीरिया)

जन्म लेते ही बच्चे का मर जाना (बार-बार बच्चा होकर मर जाना)

जरायु (गर्भाशय) के रोग

कष्टार्त्तव (मासिक-धर्म का कष्ट से आना)

माहवारी का अधिक आना

माहवारी (मासिक धर्म) न होने के कारण

मक्कल शूल (जेर अटकने का दर्द)

मसान सूखिया

रजोनिवृत्ति (माहवारी (मासिक धर्म) का समाप्त होना)

मासिक-धर्म की अनियमितता

प्रत्येक महीने गर्भ की रक्षा करना

प्रसवोत्तर रक्तस्राव

रजोदर्शन, मासिक-धर्म (माहवारी)

रक्तप्रदर (माहवारी में रक्त का अधिक आना)

संतति योग

स्तन का फोड़ा

स्तनों का पूरा न उभरना

स्त्री के स्तनों (कुच) को संकोचन करना

छोटी उम्र में रक्तस्राव

योनि दर्द

योनि में कमजोरी होना

योनिभ्रंश

योनि का संकोचन

योनि कन्द रोग (योनि की गांठ)

योनि (भग) की सूजन

योनि (स्त्री जननांग) को छोटी करना

योनि रोग